सांसारिक साधनों से नहीं, भगवान की भक्ति करने से मिलती है सुख-शांति - BHARAT NEWS LIVE 24

Breaking

Saturday, 8 June 2019

सांसारिक साधनों से नहीं, भगवान की भक्ति करने से मिलती है सुख-शांति

सांसारिक साधनों से नहीं, भगवान की भक्ति करने से मिलती है सुख-शांति


*भारत न्यूज लाईव 24 हर खबर आप तक  दिनारा से रानू राजपूत की रिपोर्ट* 

कस्बे के प्रसिद्ध राधा-कृष्ण मंदिर पर भागवत दास महाराज के सानिध्य चल रही श्रीमद भागवत कथा के तीसरे दिन कथा व्यास मानस मणी शास्त्री ने ध्रुव, प्रह्लाद और वामन चरित्र की कथा सुनाई। 


शास्त्री ने कहा कि अगर आप बिना डरे भगवान में पूरा विश्वास बनाए रखेंगे तो वे आपकी हमेशा सहायता करेंगे। जितना समय हम दुनिया को देते है उसका 5 प्रतिशत भी समय भगवान की भक्ति में लगाए तो ईश्वर की कृपा निश्चित ही मिलेगी। हम सांसारिक साधन में ही सुख तलाशते हैं जबकि सुख शांति ईश्वर भक्ति में ही है। खुशी उसे ही मिलती है जो दूसरों को खुश रखना जानते है। भगवान से मिलने का मार्ग ही मन की शांति है। भागवत कथा श्रवण करने से बड़ा और कोई पुण्य व सौभाग्य नहीं एवं संसार का परम सुख हरि मिलन मिलन के शिवाय और कही नहीं है। 


जिस तरह से अमृत कथा को सुनकर महापापी धुंधकारी भी परम धाम को प्राप्त हुए। इसी तरह से कथा का श्रवण कर मनुष्य भी अपना लोक सुधार सकते हैं। पंचकुंडात्मक महायज्ञ के आयोजन में प्रतिदिन पूजन व आहुति का कार्य यज्ञाचार्य पंडित संदीप शास्त्री काशी वाराणसी द्वारा सम्पन्न कराया जाता है। यज्ञ के मुख्य यजमान दिनारा जनपद सदस्य आरती जयजय वकील एवं भागवत कथा के मुख्य यजमान सुमन-राजू यादव बनाए गए है।

No comments:

Post a Comment