दुखतः घटना गुजरात में छात्रों का कोचिंग सेंटर में हुई हादसा पर दुखद व्यक्त किया है और रोक लगवाने के लिए भी मांग की है सरकार सेःसुरज सिंह* - BHARAT NEWS LIVE 24

Breaking

Sunday, 26 May 2019

दुखतः घटना गुजरात में छात्रों का कोचिंग सेंटर में हुई हादसा पर दुखद व्यक्त किया है और रोक लगवाने के लिए भी मांग की है सरकार सेःसुरज सिंह*

*दुखतः घटना  गुजरात में छात्रों का कोचिंग सेंटर में हुई हादसा पर दुखद व्यक्त किया है और रोक लगवाने के लिए भी मांग की है सरकार सेःसुरज सिंह*

रिपोर्टः

दिनेश कुमार पंडित


दुखतः घटनाः बिहार में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के बिहार प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सूरज सिंह ने कहा कि सूरत के कोचिंग संस्थान में लगी भीषण आग और उसमें जल कर मरे 23 बच्चों की घटना ने सब को अंदर से झकझोर दिया है,यह घटना सरकार द्वारा निर्धारित मानक को पुरा ना करने के कारण हुआ,आज गया शहर में जिस तरह धरले से कोचिंग संस्थान सरकार के मापदंड को बिना पुरा किए खुल रहा है यह एक बड़ी घटना का संकेत है।सरकार द्वारा कोचिंग संस्थान चलाने के लिए जो निर्धारित मानक होनी चाहिए वो शहर के अधिकांश कोचिंग संस्थान पुरा नही करती है बच्चे के जीवन के साथ कोचिंग संस्थान के संस्थापक खुले रूप से खेल रहें है आज शहर के अधिकांश मुहल्ले में बिना सरकार से मान्यता प्राप्त किये कोचिंग संस्थान धरले से संचालित हो रही है आज जिस तरह से कोचिंग संस्थान(डांस कोचिंग,शैक्षणिक कोचिंग) में छात्रों के लिए सुरक्षित कि कोई व्यवस्था नही है ना ही छात्राओं के सुरक्षा को ध्यान में रखा जा रहा है उससे साफ जाहिर होता है कि बिहार की शिक्षा व्यवस्था पूरी तरह खत्म होती जा रही है,मालूम हो कि हाल ही में मानपुर के राहुल मैथमेटिक्स में छात्राओं के साथ कि गई बदसलूकी उसका साफ उदाहरण है मिडिया ने इस घटना को काफी प्रमुखता से प्रकाशित कि थी उसके बाद भी प्रशासन का नजर ना खुलना यह सवाल खड़ा करता है शहर के कई डांस क्लास भी सरकार द्वारा निर्धारित मानक को पूरा नही करती खास कर ऐसे कोचिंग संस्थान में छात्राएं काफी असुरक्षित होती है।मैं मिडिया के माध्यम से गया बिहार शिक्षा मंत्री या जिला शिक्षा पदाधिकारी महोदय से मांग करता हूँ कि सरकार द्वारा निर्धारित मानक को जो भी कोचिंग संस्थान पूरा नही करते या जो भी कोचिंग संस्थान सरकार से मान्यता प्राप्त नही है उसे चिन्हित कर उस पर कार्रवाई करे साथ ही उनके संचालको आप अतिशीघ्र करवाई कर कड़ी से कड़ी सजा दें।क्योंकि शहर में जिस तरह कोचिंग को एक व्यवसाय बना दिया गया है वह चिन्ता का विषय है जिला शिक्षा पदाधिकारी महोदय मान्यता प्राप्त कोचिंग संस्थान का जांच कर उनकी कोचिंग संस्थान में जो कमी है उसे पुरा करायें,आज शहर में व्यवसाय के लिए खोले गए कोचिंग संस्थान पर रोक लगाना बहुत जरूरी है नही तो सूरत जैसी घटना हमारे शहर में भी घटित हो सकती है,अब प्रशासन को ऐसी कोचिंग संस्थान पर कार्रवाई करनी बहुत ही अवश्य हो गया है।

No comments:

Post a Comment