प्राइमरी स्कूलों, सीएचसी, बीआरसी में डीएम ने डाला छापा प्रिंसिपल को हटाने व पाँच अध्यापकों का रोका वेतन विकास कुमार श्रीवास्तव (गोंडा ब्यूरो चीफ) तेन्दुवा कला गांव में गन्दगी देख नाराज हुए डीएम व सीडीओ लगाई फटकार* गोंडा। - BHARAT NEWS LIVE 24

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Tuesday, 4 December 2018

प्राइमरी स्कूलों, सीएचसी, बीआरसी में डीएम ने डाला छापा प्रिंसिपल को हटाने व पाँच अध्यापकों का रोका वेतन विकास कुमार श्रीवास्तव (गोंडा ब्यूरो चीफ) तेन्दुवा कला गांव में गन्दगी देख नाराज हुए डीएम व सीडीओ लगाई फटकार* गोंडा।

प्राइमरी स्कूलों, सीएचसी, बीआरसी में डीएम ने डाला छापा

प्रिंसिपल को हटाने व पाँच अध्यापकों का रोका वेतन

विकास कुमार श्रीवास्तव (गोंडा ब्यूरो चीफ)

तेन्दुवा कला गांव में गन्दगी देख नाराज हुए डीएम व सीडीओ लगाई फटकार*

गोंडा।
मंगलवार को डीएम कैप्टेन प्रभान्शु श्रीवास्तव ने ताबड़तोड़ कई जगहों पर छापमारी की। डीएम ने प्राथमिक विद्यालय गांधी ग्राम शिक्षा क्षेत्र झण्झरी तथा प्राथमिक विद्यालय कहोबा मनकापुर, बीआरसी मनकापुर, सीएचसी मनकापुर का औचक निरीक्षण किया  तथा मनकापुर के गांव तेन्दुवा कला में भी पहुंचकर साफ सफाई का निरीक्षण किया।
     निरीक्षण में मिली खामियों पर नाराज  डीएम ने गांधी ग्राम की प्रिन्सपल आरती पाण्डेय को तत्काल हटाकर बभनजोत ब्लॉक में पोस्ट करने और कहौबा प्राथमिक विद्यालय के पाँच  अध्यापकों का वेतन तत्काल प्रभाव से रोकने के आदेश बीएसए को दिए हैं. डीएम ने गांधी ग्राम विद्यालय में शिक्षा की क्वालिटी चेक करने के बच्चों  से सवाल पूछे तो ज्यादातर बच्चे  डीएम को पहाड़ा नही सुना पाए और अन्य सवालो पर भी संतोषजनक जवाब नही दे सके. नाराज डीएम ने वहीं पर प्रिंसिपल को फटकार लगाई. यह भी ज्ञात हुआ कि  विद्यालय में एक भी बच्चे को अब तक स्वेटर नही मिला हैं. लापरवाही से नाराज डीएम ने वर्षों से विद्यालय में तैनात  प्रिंसिपल का स्थानांतरण ब्लॉक झण्झरी से बभनजोत करने के आदेश बीएसए को दिए हैं. इसके अलावा अन्य अध्यापकों को शिक्षा के स्तर में सुधार के लिए पंद्रह दिनो का टाइम दिया हैं. डीएम ने स्वयं ब्लैकबोर्ड पर बच्चों से लिखवाकर शैक्षिक गुणवत्ता की  जांच की . पीएस गांधी ग्राम से निकलकर डीएम अधिकारियों  के साथ प्राथमिक विद्यालय कहौबा शिक्षा क्षेत्र मनकापुर पहुंचे. वहाँ  पर पंजीकरण 101 बच्चों के सापेक्ष मात्र 40 बच्चे उपस्थित मिले. बच्चो  से डीएम ने पहाड़ा पूछा तो बच्चे नही सुना सके. बच्चों के नाखून आदि गंदे व बड़े मिले. नाराज डीएम ने उपस्थिति के अनुसार मानक के आधार पर आवश्यकता से अधिक अध्यापकों को तत्काल हटाकर बभनान स्थानांतरित करने व नवम्बर माह से लेकर अग्रिम आदेशों  तक वेतन निर्गत ना करने के आदेश बीएसए को दिए हैं.  डीएम ने बीएसए को सख्त आदेश दिए हैं कि विद्यालय में जबतक बच्चों का न्यूनतम शैक्षिक स्तर सुधर ना जाये तबतक किसी का वेतन ना दिया जाये. बीआरसी मनकापुर में डीएम को गन्दीग की भरमार मिली। डीएम ने वहीं पर खण्ड शिक्षा अधिकारी मनकापुर को फटकार लगाई तथा 15 दिनों की मोहलत देते हुए सफाई के साथ ही फाइलें आदि दुरूस्त कराने के निर्देश दिए। सीएची मनकापुर में फार्मासिस्ट डीएम को दवाओं का हिसाब नहीं दे सका। बेडों पर लगी चादरें बेहद पुरानी व गन्दी मिलीं। डीएम ने वहीं पर फटकार लगाते हुए सम्बन्धित कर्मियों के खिलाफ कार्यवाही के लिए सीएमओ को आदेश दिए हैं। तेन्दुवा कला गांव में साफ सफाई का निरीक्षण करने पहुचे डीएम व सीडीओ को गन्दगी की भरमार दिखाई दी। डीएम व सीडीओ ने डीपीआरओ को वहीं पर फटकार लगाते हुए सफाईकर्मी का 15 दिनों का वेतन काटने तथा गाव को पूरी तरह गन्दगी और कचरामुक्त करने के निर्देश दिए।  इस दौरान एसपी आरपी सिंह व सीडीओ अशोक कुमार व अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment