*बिहार के राजधानी पटना में पटना हाईकोर्ट के अधिवक्ता जितेंद्र सिंह को गोली मार कर हत्याकर दियें दिनदहाड़े* रिपोर्टः दिनेश कुमार पंडित बिहार बिहार के राजधानी पटना में दिनदहाड़े हाईकोर्ट अधिवक्ता को गोली मार हत्या कर दी गई उसी हत्याकांड में पुलिस अधिकारी ने गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है. इस हत्याकांड का खु - BHARAT NEWS LIVE 24

Breaking

Saturday, 8 December 2018

*बिहार के राजधानी पटना में पटना हाईकोर्ट के अधिवक्ता जितेंद्र सिंह को गोली मार कर हत्याकर दियें दिनदहाड़े* रिपोर्टः दिनेश कुमार पंडित बिहार बिहार के राजधानी पटना में दिनदहाड़े हाईकोर्ट अधिवक्ता को गोली मार हत्या कर दी गई उसी हत्याकांड में पुलिस अधिकारी ने गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है. इस हत्याकांड का खु

*बिहार के राजधानी पटना में  पटना हाईकोर्ट के अधिवक्ता जितेंद्र सिंह  को गोली मार कर हत्याकर दियें दिनदहाड़े*
रिपोर्टः
दिनेश कुमार पंडित
बिहार
बिहार के राजधानी पटना में दिनदहाड़े हाईकोर्ट अधिवक्ता को गोली मार हत्या कर दी गई उसी हत्याकांड में पुलिस अधिकारी ने  गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है. इस हत्याकांड का खुलासा करते हु डी आई जी सेन्ट्रल राजेश ने बताया कि भूमि विवाद मेंअधिवक्ता को  हत्या कर दी थी
पत्रकार को डीआईजी ने बताया कीअधिवक्ता  जितेंद्र की हत्या की साजिश पिछले छः महीने से रची जा रही थी. हत्यारे सही समय और मौका का इंतजार कर रहे थे. अधिवक्ता हत्यकांड में शामिल चार शूटर को गिरफ्तार कर लिया गया है और चारअन्य लोगों की तलाश की जा रही है. उन्हें भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बुधवार को बेलगाम अपराधी दिनदहाड़े हाईकोर्ट के अधिवक्ता जितेंद्र कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी थी. सबसे बड़ी बात यह थी कि अति सुरक्षित जोन कहे जानेवाले बेली रोड में हाईकोर्ट के अधिवक्ता की हत्या की गयी थी. उन्हें कोर्ट जाने के दौरान अपराधियों ने गोली मारी थी, जिनकी अस्पताल में मौत हो गई थी. शुरूआती जांच में यह बात सामने आई थी कि इस घटना को अंजाम सुपारी किलर ने अंजाम दिया है. अधिवक्ता को हत्या के बाद उनके परिवारवालों ने पत्नी सहित नौ लोगों पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था. उसी आधार पर जाँच करते हुए पुलिस ने मामले का खुलासा किया है. मामले में पत्नी और ससुरालवालों की संलिप्तता सामने सुने मिला है।
इस घटना के बाद हत्या से नाराज पटना हाईकोर्ट के अधिवक्ताओ ने कामकाज को ठप्प करते हुए बेली रोड को जाम कर दिया था. जिसके बाद बेली रोड को लगभग तीन घंटे से ज्यादा वक्त तक जाम रखा था. बाद में पटना पुलिस की तरफ से हत्याकांड की जांच के लिए एसआईटी गठित करने के ऐलान के बाद अधिवक्ताओं शांत हुए थे. वहीँ अधिवक्ता की हत्या के बाद कार्य बहिष्कार पर गए अधिवक्ता आज काम पर लौट गये है

No comments:

Post a Comment