80 प्रतिशत से ज्यादा दिव्यांगजनों को जल्द ही मोटर वाली गाड़ी दिये जाने की व्यवस्था बनायी जा रही है प्रदेश सरकार दिव्यांगजनों के लिए कँन्धे से कँन्धा मिलाकर चलने को तैयार है : नगर विकास मंत्री - BHARAT NEWS LIVE 24

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Monday, 3 December 2018

80 प्रतिशत से ज्यादा दिव्यांगजनों को जल्द ही मोटर वाली गाड़ी दिये जाने की व्यवस्था बनायी जा रही है प्रदेश सरकार दिव्यांगजनों के लिए कँन्धे से कँन्धा मिलाकर चलने को तैयार है : नगर विकास मंत्री

80 प्रतिशत से ज्यादा दिव्यांगजनों को जल्द ही मोटर वाली गाड़ी दिये जाने की व्यवस्था बनायी जा रही है प्रदेश सरकार दिव्यांगजनों के लिए कँन्धे से कँन्धा मिलाकर चलने को तैयार है : नगर विकास मंत्री 

03 दिसंबर 2018 



शाहजहाँपुर//केन्द्र एवं प्रदेश सरकार दिव्यांगजनों की हर सम्भव मदद कर रही है। यह बात प्रदेश के नगर विकास मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने विष्व दिव्यांग दिवस के अवसर पर जिला प्रशसन एवं आदर्श कल्याण द्वारा आयोजित कार्यक्रम ओ0सी0एफ0 रामलीला मैदान में कही।

 मा0 मंत्री जी, द्वारा 25 दिव्यांगजनों को अपने हाथों से कम्बल वितरित किया गया, एवं जिलाधिकारी की टीम उपजिलाधिकारी सदर रामजी मिश्र, नगर मजिस्ट्रेट अतुल कुमार  सहित अन्य अधिकारीगणों ने अपने हाथों से दिव्यांगजनों को कम्बल वितरित किये। मा0 मंत्री जी द्वारा आंषिका गुप्ता, पियूश,  को स्मृति चिन्ह, सांस्कृतिक कार्यक्रम करने वाले बच्चों को मेडल पहनाया गया। सुरेश कुमार खन्ना ने अपने सम्बोधन में कहा कि जब से योगी जी की सरकार आयी है, तब से उपलब्धियाँ देखने एवं सुनने को मिल रही हैं। उन्होंने कहा कि पूववर्ती सरकार में दिव्यांगजनों को 300/-रूपये प्रतिमाह पेशन मिलती थी, जिसे वर्तमान सरकार ने बढ़ाकर 500/- कर दिया है। इसी प्रकार दिव्यांगजनों को पूर्व में 3 प्रतिशत का आरक्षण दिया जा रहा था, जिसे अब वर्तमान सरकार ने बढ़ाकर 4 प्रतिशत कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि पहले पेंशन की प्रक्रिया जटिल थी, अब उसी प्रक्रिया को आसान बना दिया गया है। जिससे दिव्यांगजनों को इधर-उधर भटकने की जरूरत नहीं पड़ रही है, उनके सभी कार्य आसानी से निपट रहे हैं। 

 खन्ना ने कहा कि जनपद में 63 हजार 626 लोगों को पेंशन की सुविधा मिल रही थी, जिसमें 18 हजार 936 नये लाभार्थी जोड़े गये हैं। उन्होंने कहा कि आये हुए दिव्यांगजनों ने 4 हजार 295  लोगों ने पंजीकरण कराया है। 15 दिनां के उपरान्त इन सभी को उपकरण दे दिये जायेंगे। उन्हांंने कहा कि 80 प्रतिशत से ज्यादा दिव्यांगजनों को जल्द ही मोटर वाली गाड़ी दिये जाने की व्यवस्था बनायी जा रही है। 

खन्ना ने कहा कि प्रदेश सरकार दिव्यांगजनों के लिए कँन्धे से कँन्धा मिलाकर चलने को तैयार है। विकलांगजनों को आवास,शैचालय, उपकरण सहित विभिन्न प्रकार की योजनाओं से प्रदेश सरकार लाभान्वित करने का कार्य कर रही है।

 इससे पूर्व जिलाधिकारी अमृत त्रिपाठी ने समाज कल्याण, प्रोबेशन, पूर्ति , चिकित्सा, गन्ना, कृषि, शिक्षा, बैंक, जिला कार्यक्रम विभाग, वन, निर्वाचन, सहित अन्य विभागों द्वारा लगाये स्टॉलों का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि सभी तहसील द्वारा निर्वाचन से सम्बन्धित जो स्टॉल लगाये गये हैं, जिनका मतदाता सूची में नाम छूटा हुआ है और जो मतदाता हैं जिनकी उम्र 18 वर्ष हो चुकी है वह मतदाता अपना नाम सूची में बढ़वा दें। जिलाधिकारी ने आये हुए दिव्यांगजनों की समस्याएँ सुनी और सम्बन्धित विभागों को निस्तारण करने को निर्देषित किया। उन्होंने कहा कि दिव्यांगजनों की हर प्रकार की समस्या का निराकरण तत्काल किया जाये। इसमें किसी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नहीं होगी। 

 इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष अजय प्रताप सिंह, पुलिस अधीक्षक डॉ0 शिवा सिम्मी चनप्पा, मुख्य विकास अधिकारी श्रीमती प्रेरणा शर्मा, मुख्य चिकित्साधिकारी आर0पी0रावत, नगर मजिस्ट्रेट अतुल कुमार, उपजिलाधिकारी सदर रामजी मिश्र सहित अन्य अधिकारीगण, दिव्यांगजनगण उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन नरेन्द्र कुमार सक्सेना द्वारा किया गया।

No comments:

Post a Comment