Thursday, 1 November 2018

सीधी के आदिवासी छात्रावास में बी.ए. फाइनल,में पढ़ने वाली एक छात्रा ने हॉस्टल में जहर का सेवन कर खुदकुशी करने की कोशिश की,जहाँ गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है,जहाँ उसका इलाज जारी है,और खतरे से बाहर है,जहर खाने की वजह स्पस्ट सामने नही आई है,बेहोशी

सीधी के आदिवासी छात्रावास में बी.ए. फाइनल,में पढ़ने वाली एक छात्रा ने हॉस्टल में जहर का सेवन कर खुदकुशी करने की कोशिश की,जहाँ गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है,जहाँ उसका इलाज जारी है,और खतरे से बाहर है,जहर खाने की वजह स्पस्ट सामने नही आई है,बेहोशी जैसी हालत में छात्रा ने बताया कि उसका प्रेमी मनोज सिंह से खफा होकर उसने छात्रावास में लगे कनेर का फल खा लिया,आपको बता दे कि कनेर का फल जहरीला होता है,जिसकी वजह से कई लोगो की पहले भी इसके खाने से मौत हो गयी है,हालांकि अभी छात्रा का इलाज चल रहा है,और फिरहाल खतरे से बाहर है,वही छात्रा की माँ का कहना है कि छात्रावास में रह कर लड़की ने जहर खाया है,आदर्श कन्या महाविद्यालय पढ़ रही है,किसी प्रेमी से नाराज होकर इस घटना को अंजाम दिया है,हालांकि पुलिस की माने तो जहर खाने का कारण अभी जांच में चल रहा है,पूरे मामले की जांच के बाद ही पता चल सकता है।
बाईट(१)निर्मला (छात्रा)
बाईट(2)सावित्री (माँ)
बाईट(3)लक्ष्मण पटेल(चौकी प्रभारी,जिला अस्पताल सीधी)