Thursday, 8 November 2018

भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर लक्ष्मीकांत वाजपेई बैठे धरने पर कारण चोर को छिपा रही है पुलिस मेरठ वारदात की रिपोर्ट दर्ज न करके क्राइम कंट्रोल दिखाने का पुलिस का कारनामा जगजाहिर है ऐसा ही एक मामला सिविल लाइन थाने का है पुलिस ने चोरी हुआ मोबाइल तो रिकवर कर लि

भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर लक्ष्मीकांत वाजपेई बैठे धरने पर कारण चोर को छिपा रही है पुलिस

मेरठ वारदात की रिपोर्ट दर्ज न करके क्राइम कंट्रोल दिखाने का पुलिस का कारनामा जगजाहिर है ऐसा ही एक मामला सिविल लाइन थाने का है पुलिस ने चोरी हुआ मोबाइल तो रिकवर कर लिया लेकिन चोर का पता नहीं कर पाई खाकी के व्यवहार के खिलाफ भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेई गुरुवार को थाने पर धरने पर बैठ गए पुलिस ने आनन-फानन में मुकदमा दर्ज कर एफ आई आर की कॉपी पीड़ित कोतमा जिसके बाद धरना खत्म हुआ आपको बता दें कुछ थानेदार अपनी मनमानी कर रहे हैं योगी सरकार को बदनाम करने की साजिश कर रहे हैं जैसा कि आपने सूरजकुंड राम बाग निवासी महेंद्र गिरी पुत्र ओमप्रकाश डेयरी संचालक 10 अक्टूबर को उनके यहां एक l.e.d. 3 मोबाइल और ₹99000 के चोली हो गए थे उन्होंने सूरजकुंड चौकी पर सिविल लाइन थाने में तहरीर दी थी लेकिन रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई आरोपी मोबाइल रिकवरी सेल में उनका एक मोबाइल बरामद करके उन्हें सौंप दिया आपको बता दें कुछ थानेदार अपने उच्च अधिकारियों को भी बदनाम करवा रहे हैं जिससे कि पब्लिक में आक्रोश है मेरठ की जनता में

एसएसपी मेरठ अखिलेश कुमार जी का कहना है पीड़ित खुद ईएफआईआर को मना कर रहा था किसी रिक्शा चालक से मोबाइल बरामद हुआ था पुलिस उसे विश्वास में लेकर मोबाइल चोर तक पहुंचेगी तेरी अपने एफ आई आर दर्ज न करने का आरोप लगाया है जांच में अगर आरोप सिद्ध होता है तो दोषी पुलिस कर्मी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी एसएसपी अखिलेश कुमार पहले से ही जनता के प्रति एक्टिव है उन्होंने साफ जाहिर किया है अगर जो जांच आरोप सिद्ध होता है तो दोषी पुलिस कर्मी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी

मेरठ मंडल ब्यूरो सुशील रस्तोगी