घूरपुर से प्रतापपुर तक जाने वाली प्रधानमंत्री सड़क योजना से बनायी गयी - BHARAT NEWS LIVE 24

WEB TV

https://www.youtube.com/channel/UCMC0tYOO3NuROBFSlfFklXg

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Tuesday, 20 November 2018

घूरपुर से प्रतापपुर तक जाने वाली प्रधानमंत्री सड़क योजना से बनायी गयी

🚌🚎🚜🏍👉🏻   *घूरपुर से प्रतापपुर तक जाने वाली प्रधानमंत्री सड़क योजना से बनायी गयी सड़क चिल्ला गौहानी और छतहरा ग्राम में हो गए बड़े गड्ढ़े जो कि मां मसुरियन के मेला के समय होगा हादसा इसका जिम्मेदार होगा कौन/✍घूरपुर से प्रतापपुर तक प्रधानमंत्री सड़क परियोजना के अंतर्गत सन 2017 में सम्बन्धित ठेकेदार {1}घूरपुरपुर से सुजौना तक जे के कन्ट्रक्सन {2}  सुजौना से लालापुर पैट्रोल टँकी तक नवभारत ट्रेंडर्स{ 3}पिट्रोल टँकी लालापुर से प्रतापपुर तक सुदामा सिंह जो कि अपनी आवंटित रोड का कार्य 2017 मे पूरा कर दिए इनके जाते ही कुछ महीने के अन्तराल में रोड उखड़ना सुरु हो गयी प्रतापपुर से टँकी तक रोड ठीक है नवभारत टेडर्स की इछौरा नदी के पास टूट गयी रोड छतहरा में हो गए बड़े गड्ढे चिल्ला में राकेश मिश्रा के सामने बहुत ही बड़ा गडढा जो किसी समय हो सकता है हादसा लालमन द्विवेदी के सामने गड्ढा कट स्टोन ईट टूट गई आल्हा ऊदल की बैठक के रास्ते के पहले कट स्टोन साहेब बालेडीहा के चक्की के पास कट स्टोन टूट गई एवम गल गयी स्यामा मिश्रा के घर के पास टूट गई रोड चिल्ला जसरा मोड़ टूटी हुई रोड सुजोना गणेश जी के मंदिर के पास टूटी रोड और छोटे छोटे गड्ढे कई जगह हो गए है अगर इन गड्ढो को तत्काल नही ठीक करा या गया तो किसी भी समय हो सकता है एक्सीडेंट क्योंकि खनन छेत्र होने के साथ साथ धार्मिक मेला माँ मसुरियन धाम इमिलिया मनकामेश्वर महादेव मन्दिर लालापुर जिससे वाहन का आना जाना लगातार बना रहता है बालू एवम गिट्टी की माल वाहन ट्रकें स्कूली बाहन और जसरा रोड जाम होने पर घूरपुर से लालापुर रोड से बाहनों का आना जाना लगा रहता है कुम्भ मेला में जाने का तरहार छेत्र की सबसे सुगम रोड यही है इसलिए समय रहते सड़क के गड्ढो को टूटी हुई ईंट को सम्बन्धित ठेकेदार अपनी जवाबदारी को पूरा करे क्योकि रोड की गारंटी 5 साल दुरुस्त रखने की है जनता इन गड्ढो को देखकर जन आक्रोष में है इसलिए कोई हादसा न हो इससे पहले सड़क ठीक कराई जाय/ हर खबर के साथ भारत न्यूज लाइव 24 पी सी पांडेय रिपोटर बारा के साथ*

No comments:

Post a Comment