बेटी को कार में बंद कर भूल गए माता पिता बच्चे की उम्र 8 माह मेरठ एक माता पिता तोहार पर ऐसी लापरवाही करती थी 8 माह की बच्ची को कार में सोता छोड़ शॉपिंग करने के लिए निकल गया कार चारों तरफ से नागपुरी ऑक्सीजन की कमी होने पर बच्चे और बात होती तो शीशे पर हाथ ऑक्सीजन की कमी होने पर बच्चे और बात होती तो शीशे पर हाथ मारकर रोने ल - BHARAT NEWS LIVE 24

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Wednesday, 7 November 2018

बेटी को कार में बंद कर भूल गए माता पिता बच्चे की उम्र 8 माह मेरठ एक माता पिता तोहार पर ऐसी लापरवाही करती थी 8 माह की बच्ची को कार में सोता छोड़ शॉपिंग करने के लिए निकल गया कार चारों तरफ से नागपुरी ऑक्सीजन की कमी होने पर बच्चे और बात होती तो शीशे पर हाथ ऑक्सीजन की कमी होने पर बच्चे और बात होती तो शीशे पर हाथ मारकर रोने ल

बेटी को कार में बंद कर भूल गए माता पिता बच्चे की उम्र 8 माह

मेरठ एक माता पिता तोहार पर ऐसी लापरवाही करती थी 8 माह की बच्ची को कार में सोता छोड़ शॉपिंग करने के लिए निकल गया कार चारों तरफ से नागपुरी ऑक्सीजन की कमी होने पर बच्चे और बात होती तो शीशे पर हाथ ऑक्सीजन की कमी होने पर बच्चे और बात होती तो शीशे पर हाथ मारकर रोने लगी अचानक एक महिला की नजर इस बच्ची पर पड़ी तो वहां पर भीड़ जमा हो गई तब तक बच्चे झटपट आने लगी थी करीब 90 मिनट की मकसद के बाद कार के फ्रंट का बैक साइड का शीशा छोड़कर बच्ची को निकाल कर प्राथमिक उपचार दिलाया आधा घंटे के बाद दंपत्ति लौटा तो लोगों ने उनको खरी-खोटी सुनाई दंपत्ति ने अपनी गलती स्वीकार की मां बाप को इस लापरवाही पर खूब सुनाई इस बीच नौचंदी पुलिस भी पहुंच गई दंपत्ति ने कहा कि उनकी गलती थी पता नहीं था कि बाजार में इतनी देर हो जाएगी

एसपी सिटी रणविजय सिंह का कहना है दंपत्ति ने लापरवाही बरती 2 घंटे तक बच्ची कार में बंद रहेगी उसकी वे मुश्किल से जान बच गई दंपत्ति को कड़ी हिदायत के बाद बच्ची को सुपुर्दगी में दे दी गई है अभिभावकों से अपील की गई है कि वह ऐसी लापरवाही ना बरतें

मेरठ मंडल ब्यूरो सुशील रस्तोगी

No comments:

Post a Comment