Thursday, 1 November 2018

*बिहार के गया जिला में आपका प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम का हुआ आयोजन जिसका उद्घाटन जिलाधिकारी महोदय ने दीपप्रज्वलीत कर* गया, 01 नवंबर, 2018, बिहार के जिला गया में इमामगंज प्रखंड के सलैया पंचायत में आज सलैया सीआरपीएफ कैंप परिसर में कार्यक्रम *आपका प्रशासन आपके द्वार* का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम का

*बिहार के गया जिला में आपका प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम का हुआ आयोजन जिसका उद्घाटन जिलाधिकारी महोदय ने दीपप्रज्वलीत कर*
गया, 01 नवंबर, 2018,
बिहार के जिला गया में  इमामगंज प्रखंड के सलैया पंचायत में आज सलैया सीआरपीएफ कैंप परिसर में कार्यक्रम *आपका प्रशासन आपके द्वार* का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलित कर जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह एवं वरीय पुलिस अधीक्षक श्री राजीव मिश्रा की संयुक्त अध्यक्षता में की गई। इसके पूर्व जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह को अनुमंडल पदाधिकारी शेरघाटी, श्री उपेंद्र पंडित द्वारा एवं वरीय पुलिस अधीक्षक को एएसपी अभियान शेरघाटी द्वारा तथा कमांडेंट सीआरपीएफ 159वी बटालियन श्री निशित कुमार को सीआरपीएफ के स्थानीय पदाधिकारी द्वारा पुष्पगुच्छ प्रदान कर हार्दिक अभिनंदन किया गया। प्रखंड विकास पदाधिकारी इमामगंज ने उप विकास आयुक्त , अंचलाधिकारी ने अपर समाहर्ता एवं अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी ने जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी को पुष्पगुच्छ प्रदान कर उनका हार्दिक अभिनंदन किया। कस्तूरबा गांधी बालिका उच्च विद्यालय के छात्राओं ने स्वागत गाना गाकर आगत अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम का शुभारंभ होने के उपरांत प्रखंड विकास पदाधिकारी इमामगंज द्वारा आगत अतिथियों का स्वागत किया गया इसके उपरांत कस्तूरबा गांधी बालिका उच्च विद्यालय की छात्राओं ने बिहार गीत प्रस्तुत कर उपस्थित अतिथियों एवं दर्शकों का मन मोह लिया। कार्यक्रम को प्रखंड प्रमुख श्रीमती कलावती देवी ने संबोधित किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उप विकास आयुक्त श्री किशोरी चौधरी ने विशेष केंद्रीय सहायता योजना के तहत आयोजित प्रशासनिक स्वास्थ्य जांच शिविर के लाभ से आम लोगों को अवगत कराया तथा उन्होंने विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्राप्त करने एवं उसका लाभ उठाने का ग्रामीणों को संदेश दिया कार्यक्रम में सीआरपीएफ 159 बटालियन के कमांडेंट 3 निशित कुमार द्वारा संबोधन किया गया उन्होंने सीआरपीएफ के द्वारा बेरोजगार युवकों के लिए चलाई जा रही योजनाओं से सभी को अवगत कराया और कहा कि सीआरपीएफ सदैव लोगों के सहयोग के लिए तैयार रहती है। कस्तूरबा गांधी बालिका उच्च विद्यालय के छात्राओं द्वारा विभिन्न कल्याण कल्याणकारी योजनाओं पर भाव नृत्य प्रस्तुत किया गया वरीय पुलिस अधीक्षक श्री राजीव मिश्रा ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ लेने एवं धैर्य पूर्वक रहने की सलाह दी उन्होंने कहा कि सरकार के द्वारा लोकतांत्रिक व्यवस्था में सभी समस्याओं का समाधान निर्धारित है थोड़ा समय जरूर लगता है लेकिन समस्या का समाधान अवश्य होता है उन्होंने कहा कि लोगों को अपने बच्चों को स्कूल भेजना चाहिए उन्हें शिक्षित करना चाहिए और समाज की मुख्यधारा में जोड़ना चाहिए सरकार द्वारा उनके हित के लिए अनेक योजनाएं चलाई जा रही हैं इसका लाभ उन्हें उठाना चाहिए। इस अवसर पर कुशल युवा कार्यक्रम के 5 लाभार्थियों गुड़िया कुमारी, शबनम खातून, रानी कुमारी,विपिन कुमार एवं दिनेश कुमार को प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। वहीं गुड़िया कुमारी दिव्यांग को तिपहिया साइकिल जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह के कर कमलों से प्रदान किया गया । इसके अतिरिक्त 10 अन्य दिव्यांग जिन्हें शिविर में ही विकलांगता प्रमाण पत्र निर्गत किया गया था उन्हें भी तिपहिया साइकिल प्रदान किया गया।
शराबबंदी के बाद अतिरिक्त जीविकोपार्जन हेतु सतत जीविकोपार्जन योजना के अंतर्गत पासी समुदाय की जीविका के मधु एसएचजी की श्रीमती दुलारी देवी एवं आशा एसएचजी के श्रीमती उषा देवी को 10-10हज़ार रुपये का चेक प्रदान किया गया। परिक्रमी निधि के तहत विष्णु एसएचजी के संगीता देवी, कन्या एसएचजी की चिंता देवी, कोमल एसएचजी की उमा देवी, शिवांगी एसएचजी की मौसमी देवी को पुगति एसएचजी की सुनीता देवी एवं कोमल एसएचजी के रश्मि देवी को पंद्रह पंद्रह हजार रुपये का चेक जिलाधिकारी के कर कमलों से प्रदान किया गया।
पूजा एस एच जी की उषा देवी, खुशबू एस एच जी की सुनीता देवी, ममता एसएचजी की आशा देवी, चंपा एसएचजी की गीता देवी, देवकी एसएचजी की मंजू देवी, आरती एसएचजी की मीना देवी को बैंक ऋण के रूप में डेढ़ डेढ़ लाख रुपए उपलब्ध कराया गया। कुल 14 समूहों को ₹21 लाख रुपये का बैंक ऋण उपलब्ध कराया गया। चेक जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह के कर कमलों से प्रदान किया गया। वहीं सामूहिक दुर्घटना के तहत 3 लाभार्थियों को 4-4 लाख रुपये का चेक जिलाधिकारी महोदय के कर कमलों से प्रदान किया गया।
जिलाधिकारी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सर्वप्रथम शिविर की सफलतापूर्वक आयोजन के लिए प्रशासन की पूरी टीम को बधाई दी। उन्होंने कहा कि जिले के अन्य क्षेत्रों में भी इस कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के कुछ लोगों के द्वारा सरकार के प्रति नकारात्मक विचार रखा जाता है। उनकी धारणा गलत है। उन्होंने उपस्थित लोगों से कहा कि लोकतंत्र आपका है, सरकार आपकी है, प्रशासन आपका है। हम सभी यहां आपके लिए आए हैं। सरकार की इसी प्रतिबद्धता को दुहराने के लिए कि यह सरकार आपकी है। जिला के सभी विभाग चाहे वह राज्य सरकार के हो या केंद्र सरकार के, आज आपके द्वार पर हैं।
उन्होंने कहा कि यदि कोई आपको बहकाने का प्रयास करता है कि सरकार और प्रशासन आपसे दूर है तो आज के आयोजन की जानकारी आप उन्हें दें। उन्होंने कहा कि सभी वांछित लाभुकों को सरकारी योजनाओं का लाभ मिलना चाहिए। उन्होंने योजनाओं को समझने एवं आवेदन देने हेतु संबंधित विभागों के काउंटर पर जाने का भी सभी से अपील की। उन्होंने कहा कि आपकी समस्या का निराकरण ऑन द स्पॉट किया जा रहा है।
उन्होंने युवाओं को देश का भविष्य बताया तथा कहा कि युवाओं में अपार शक्ति निहित है। अगर इसका सही उपयोग हो तो युवा वर्ग देश और समाज की काया पलट कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा युवाओं के क्षमता वर्धन के लिए विभिन्न योजनाएं चलाई जा रही हैं, जिनमें कौशल विकास कार्यक्रम, सीआरपीएफ के द्वारा प्रशिक्षण कार्यक्रम, आईटीआई के द्वारा रोजगार उन्मुख प्रशिक्षण, आईईसी गतिविधियां शामिल हैं। इन सारे कार्यक्रम में शैक्षणिक योग्यता के अनुरूप प्रशिक्षण का प्रावधान किया गया है जो 1 महीना, 3 महीना और 6 महीने के हैं। यह सभी प्रशिक्षण निःशुल्क रखा गया है। उन्होंने युवाओं को प्रशिक्षण प्राप्त कर अपनी योग्यता के अनुरूप रोजगार प्राप्त करने की अपील की। उन्होंने कहा कि उन्हें बताया गया है कि यहां के बहुत सारे लोग कमाने के लिए अन्यत्र जाते हैं। उन्होंने कहा कि यदि आप प्रशिक्षण का लाभ ले तो आपको यही रोजगार मिलेगा। उन्होंने युवाओं को प्रशिक्षण प्राप्त कर अपना भविष्य संवारने की अपील की और कहा कि आप इस प्रकार राष्ट्र निर्माण और देश निर्माण में अपना योगदान दें।
उन्होंने कहा कि जो लोग समाज के हाशिए पर हैं। चाहे वे दलित, महादलित, अति पिछड़ा या अल्पसंख्यक हैं। उनके लिए माननीय मुख्यमंत्री द्वारा विभिन्न कल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही है। मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के तहत पांच सवारी वाहन के क्रय हेतु ₹100000 तक का ऋण मुहैया कराया जा रहा है इससे युवा रोजगार प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि महादलित समुदाय के छात्र जो आईटीआई किए हैं उनके रोजगार के लिए 10 लाख रुपए का ऋण मुहैया कराया जा रहा है जिनमें ₹5 लाख रुपये का अनुदान शामिल है।
उन्होंने जीविका की सफलता का मिशाल दिया और कहा कि आज जीविका पूरे हिंदुस्तान के लिए एक उदाहरण बन गया है और पूरा देश इसका अनुकरण कर रहा है कि जीविका के तहत किस तरह दीदियों ने रोजगार के अवसर प्राप्त किए हैं। उन्होंने कहा कि इसी तरह से सरकार अनेक योजनाएं चला रही हैं जिसका लाभ लोग उठा सकते हैं। शराबबंदी के उपरांत रोजगार के विकल्प हेतु अन्यतर व्यवसाय के लिए सतत जीविकोपार्जन योजना के तहत ₹60000 की सहायता दी जा रही हैं जानकारी उन्होंने दी और कहा कि इससे अप रोजगार प्राप्त कर सकते हैं।
उन्होंने सलैया सीआरपीएफ कैंप में भाग लेने वाले सभी विभाग के पदाधिकारियों को कैंप में प्राप्त होने वाले आवेदन का निष्पादन समयबद्ध तरीके से करने का निर्देश दिया।
उन्होंने सात निश्चय योजना के तहत हर घर नल जल, हर घर तक नली गली योजना की जानकारी दी और कहा कि अगले 2 साल के अंदर सभी गांव में शुद्ध पेयजल सड़क नाली गली की सुविधा उपलब्ध हो जाएगी और इसमें सबसे पहले महादलित टोला को प्राथमिकता दी जा रही है।
उन्होंने कहा कि शौचालय निर्माण कर खुले में शौच से मुक्त वार्ड पंचायत बनाने हेतु जनप्रतिनिधियों को आगे आना चाहिए। उन्होंने इमामगंज प्रखंड के सभी जनप्रतिनिधियों से विराज पंचायत के संकल्प का उदाहरण देते हुए अपने वार्ड और पंचायत को 31 दिसंबर से पूर्व ओडीएफ करने का संकल्प लेने की अपील की। उन्होंने कहा कि विकास के लिए सुरक्षा आवश्यक है और आज सरकार द्वारा सभी क्षेत्रों में सुरक्षा की समुचित व्यवस्था की जा रही है और उन्हें आशा है कि अगले एक-दो साल में सभी नक्सल प्रभावित क्षेत्र नक्सल के प्रभाव से मुक्त हो जाएगी।
उन्होंने आयोजन की सफलता के लिए एक बार पुनः सभी पदाधिकारियों का को धन्यवाद दिया तथा बेहतरीन कार्यक्रम प्रस्तुति के लिए कस्तूरबा गांधी बालिका उच्च विद्यालय की छात्राओं की भी तारीफ की।
इसके पूर्व जिलाधिकारी व वरीय पुलिस अधीक्षक द्वारा सभी विभागों द्वारा लगाए गए स्टॉल/ शिविर का एक-एक कर गहनता से निरीक्षण किया गया तथा शिविर में प्रदान की जा रही सुविधा की जानकारी ली गई।
उल्लेखनीय है कि कुल 27 विभागों द्वारा शिविर में अपने अपने काउंटर लगाए गए थे जिनमें उज्जवला योजना के तहत गैस कनेक्शन प्राप्त करने हेतु लाभुकों की भीड़ लगी रही, उजाला योजना के तहत एलईडी बल्बों की बिक्री की भरमार रही साथ ही आधार कार्ड निर्माण के लिए 176 आवेदन प्राप्त हुए, फोटो मतदाता पहचान पत्र बनाने के लिए भी आवेदन प्राप्त हुए, लोक शिकायत निवारण सहित आरटीपीएस एवं अन्य विभागों को भी हजारों की संख्या में आवेदन प्राप्त हुए हैं जिनका निष्पादन अति शीघ्र किया जाएगा।
कार्यक्रम का समन्वय जिला योजना पदाधिकारी श्री संजय गंगवाल द्वारा किया गया तथा कार्यक्रम का संचालन स्काउट एवं गाइड के श्री प्रदीप कुमार पांडे द्वारा किया गया।
कार्यक्रम में अपर समाहर्ता, श्री राज कुमार सिन्हा, सिविल सर्जन, श्री राजेन्द्र प्रसाद, कमान्डेंट 159 वीं बटालियन, सीआरपीएफ, गया, श्री निशित कुमार, उप विकास आयुक्त, श्री किशोरी चौधरी, सेकंड इन कमांड, सीआरपीएफ, गया श्री सोहन सिंह, डिप्टी कमांडेंट, सीआरपीएफ, श्री मोती लाल, एसपी अभियान, श्री अरूण कुमार सिंह, डीएसपी इमामगंज, श्री सुशील कुमार, उप निदेशक, जन संपर्क, श्री नागेंद्र कुमार गुप्ता, ज़िला योजना पदाधिकारी, ज़िला खेल पदाधिकारी, ज़िला लोक शिकायत पदाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी, शेरघाटी, ज़िला आपूर्ति पदाधिकारी, गया, निदेशक, डीआरडीए एवं अन्य पदाधिकारीगण, मुकियागण एवं जन प्रतिनिधि मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment