ब्रकिग न्यूज करैरा आज महर्षि वाल्मीकि जी के प्रगट दिवस(जयंती) पर चल समारोह का स्वागत करते स्वयंसेवक। वाल्मीकि जी जो कि रामायण के रचियता थे वास्तव में एक डाकू थे. वाल्मीकि जयंती अर्थात एक ऐसा दिन जब महान रचियता वाल्मीकि जी का जन्म हुआ. इनकी महान रचना से हमें महा ग्रन्थ रामायण का सुख मिला. यह एक ऐसा ग्रन्थ हैं जिसने मर्या - BHARAT NEWS LIVE 24

Breaking

Wednesday, 24 October 2018

ब्रकिग न्यूज करैरा आज महर्षि वाल्मीकि जी के प्रगट दिवस(जयंती) पर चल समारोह का स्वागत करते स्वयंसेवक। वाल्मीकि जी जो कि रामायण के रचियता थे वास्तव में एक डाकू थे. वाल्मीकि जयंती अर्थात एक ऐसा दिन जब महान रचियता वाल्मीकि जी का जन्म हुआ. इनकी महान रचना से हमें महा ग्रन्थ रामायण का सुख मिला. यह एक ऐसा ग्रन्थ हैं जिसने मर्या

ब्रकिग न्यूज
करैरा

आज महर्षि वाल्मीकि जी के प्रगट दिवस(जयंती) पर चल समारोह का स्वागत करते स्वयंसेवक।
वाल्मीकि जी जो कि रामायण के रचियता थे वास्तव में एक डाकू थे. वाल्मीकि जयंती अर्थात एक ऐसा दिन जब महान रचियता वाल्मीकि जी का जन्म हुआ. इनकी महान रचना से हमें महा ग्रन्थ रामायण का सुख मिला. यह एक ऐसा ग्रन्थ हैं जिसने मर्यादा, सत्य, प्रेम, भातृत्व, मित्रत्व एवम सेवक के धर्म की परिभाषा सिखाई.
चल समारोह का नगर में कई स्थानों पर स्वागत किया गया।
विकास क्रांति
विनय मिश्रा

रिपोर्ट मघु सुदन शर्मा
9685421191

No comments:

Post a Comment