Thursday, 19 July 2018

सीएम के रथ के सामने सीना तान कर खड़ी हो गई अध्यापक संघर्ष समिति। वापस होगी ई अटेंडेंस जल्दी जारी होंगे आदेश शिवराज सिंह।

सीएम के रथ के सामने सीना तान कर खड़ी हो गई अध्यापक संघर्ष समिति। वापस होगी ई अटेंडेंस जल्दी जारी होंगे आदेश शिवराज सिंह।



भारत न्यूज लाइव 24 हर खबर आप तक जिला ब्यूरो चीफ विनोद कुमार पाठक मोबाइल 9752808383



सीएम के रथ के सामने सीना तान कर खड़ी हो गई अध्यापक संघर्ष समिति वापस होगी ई अटेंडेंस। जल्दी जारी होंगे आदेश सत्ता के कानों तक अपनी बात पहुंचाने के लिए संघर्ष के अलावा दूसरा कोई रास्ता नहीं है अध्यापक संघर्ष समिति के प्रांतीय सह संयोजक सत्येंद्र तिवारी एवं महिला प्रमुख फातिमा बानो अपने सैकड़ों अध्यापकों के साथ हाथों में मांगों की प्ले कार्ड लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के रथ के आगे सीना तान कर खड़ी हो गई हाथों में मालाओं की जगह प्ले कार्ड देखकर मुख्यमंत्री का मन थोड़ा खराब जरूर हुआ होगा लेकिन वह संघर्ष समिति के जुझारु एवं लड़ाकू नेताओं के तेवरों को देखकर उनके करीब आए और उनसे बात की एवं मांग पत्र लिय           13 को उज्जैन से शुरू हुई मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान अध्यापकों की ओर से दिया गया यह पहला ज्ञापन था जो उन्हें सतना की मड़वार में संघर्ष समिति ने सौंपा संघर्ष समिति के नेताओं से मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कहा कि अटेंडेंस रुकवा देता हूं और संविलियन के आदेश भी शीघ्र जारी करवा देता हूँ।
    हजारों के बीच मुख्यमंत्री की ओर से दिए गए इस आश्वासन को हल्के में नहीं लिया  जा सकता मड़वार में सीएम को यह एहसास हो गया कि यदि ईअटेंडेंस वापस नहीं ली एवं आदेश नहीं निकाले तब संघर्ष समिति ने यहां से जो शुरुआत की है वह आगे बढ़ी तो सीएम का भाषण देना मुश्किल हो जाएगा ।

     मड़वार में सत्येंद्र तिवारी एवं फातिमा बानो की अगुवाई में सैकड़ों अध्यापक हाथों में प्ले कार्ड लहराते हुए सीएम से ई अटेंडेंस तत्काल बंद करने तथा संविलियन के आदेश निकलवाने की मांग कर रहे थे जवाब में सीएम ने कहा रुकवाता हूं ई अटेंडेंस,शीघ्र जारी करता हुँ आदेश।
     जिन संगठनों एवं नेताओं में अपनी बात रखने का साहस न हो उन से यह उम्मीद नहीं की जा सकती कि वह सीएम तक तरीके से अपनी बात पहुंचा सकेंगे संघर्ष बिना  साहस एवं हिम्मत के नहीं किया जा सकता अध्यापक संघर्ष समिति के लड़ाकू जुझारू नेताओं ने यह बात साबित कर दी सीएम के सामने दमदारी से अध्यापकों की बात रखने के लिए सत्येंद्र तिवारी फातिमा बानो एवं उनकी टीम को बहुत-बहुत धन्यवाद।